जवान रहने के लिए 20 साल तक कुंवारी लड़कियों के खून से नहाती रही ये रानी, पढ़ें खूंखार महारानी की कहानी

दुनियाभर में कई राजा रानियों के किस्से मशहूर हैं जिसमें कई ऐसे हैं जो अपने सनकी दिमाग के लिए प्रसिद्ध हुए तो कोई अपने अच्छे काम के लिए जाने जाने जाते हैं. आज हम आपको एक ऐसी सनकी रानी के बारे में बताने जा रहे हैं जिसको खुबसुरत होने का भूत इस कदर सवार था कि वो अपनी जवानी बरकरार रखने के लिए कुंवारी लड़कियों के खून से नहाती थी. तो चलिए इस रानी की पूरी कहानी जानते हैं.

JBT Desk
JBT Desk

इंसानी खून पीने वाले ड्रैकुला या वैम्पायर की कहानी तो आपने जरूर सुनी होगी. इनके ऊपर ऐसी कई फिल्में भी बनी है लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि, वैम्पायर सच में होते हैं या फिर एक काल्पनिक कहानियां है? आज हम आपको  हंगरी की एक रानी के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे वहशी रानी कहा जाता है. इस रानी को खुबसुरत दिखने का बेहद शौक था और इसके लिए वो सबकुछ करती तो यहां तक कि वो जवान दिखने के लिए कुंवारी कन्याओं के खुन से तक नहाती थी.

दरअसल, हम बात कर रहे हैं क्वीन एलिज़ाबेथ बाथोरी की जो एक सीरियल किलर थी. एलिज़ाबेथ किसी ड्रैकुला से कम नहीं थी. उसे सुंदर दिखने का ऐसा पागलपन सवार था कि कुंवारी लड़कियों का खून पीने लगी और उससे नहाने भी लगी. इस रानी पर आरोप था कि अपने 4 नौकरों के साथ मिलकर उसने सैकड़ों लड़कियों का अपहरण कर बेरहमी से उनकी हत्या कर दी. तो चलिए इसकी पूरी कहानी जानते हैं.

कौन थी क्वीन एलिजाबेथ बाथोरी

एलिज़ाबेथ का जन्म 1560 में न्यिरबेटर , रॉयल हंगरी में एक रईस परिवार में हुआ था. वह बहुत सुंदर और सुंदर और बुद्धिमान थीं. महारानी बनने के बाद उसने 1590 से लेकर 1690 के बीच सौंदर्य के लिए हजारों कन्याओं के खून से नहाना शुरू कर दिया. रानी को विश्वास था कि, अगर वो कुंवारी लड़कियों के खुन से स्नान करेगी तो वह हमेशा जवान और सुंदर दिखेगी. खुद को जवान और खूबसूरत दिखने के लालच ने एलिजाबेथ को एक किलर रानी बना दी. उसने इस काम के लिए कई हत्याएं की.

20 साल तक खेला खूनी खेल

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एलिजाबेथ जब छोटी थी तो उसे मिर्गी के दौर पड़ते थे. उस समय किसी ने सलाह दी कि अगर एक स्वस्थ व्यक्ति का खुन उस बच्ची के होठों पर रख दें तो उसे मिर्गी के दौरे पड़ने बंद हो जाएंगे. ऐसा दावा किया जाता है कि, यह नुस्खा कामयाब हो गया. इसके बाद से ही खून पीने की आदत बन गई.  रानी इस काम को अंजाम देने के लिए हर रोज अपने महल में धोखे से कुंवारी लड़कियों को बुलाती थी और फिर उसकी हत्या कर उसके खुन से नहाती थी. रानी के इस जुर्म में उसके नौकर भी उसका साथ देते थे. रानी ने ये खुनी खेल 1590 से 1610 यानी 20 साल तक खेला.

ऐसा हुआ घिनौने खेल का पर्दाफाश

रानी ने लगभग 20 साल तक कुंवारी लड़कियों को अपना शिकार बनाया, लेकिन जब धीरे-धीरे लड़कियों की संख्या कम होने लगी तो बाथोरी के अत्याचारों की अफवाह पूरे राज्य में फैल गईं. हंगरी के राजा को इस बात का पता चला तो उन्होंने इसकी जांच करवाई. जब रानी के महल में जांच की गई तो वहां का हाल देखकर राजा दंग रह गए. जांच दल ने एलिजाबेथ के महल से सैकड़ों लड़कियों के कंकाल और सोने-चांदी के आभूषण बरामद किए. इसके बाद साल 1610 में हंगरी के राजा ने रानी को एक कमरे में कैद करवा दिया जहां पर उसकी मौत हो गई.








 

calender
15 June 2024, 12:13 PM IST

जरूरी खबरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो