PM मोदी के शपथ ग्रहण के बाद, शेयर बाजार उच्च स्तर पर पहुंचा

भारत के प्रबंधन संस्थानों में प्रमुख संस्थान बेंगलुरू, अहमदाबाद, कोलकाता, लखनऊ, इन्दौर तथा कोझीकोड में स्थित हैं. जो प्रबन्धन की शिक्षा के अतिरिक्त ये अनुसंधान और सलाह कांसल्टेंसी का भी कार्य भी करते हैं.

JBT Desk
JBT Desk

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और एक्सिस बैंक लिमिटेड के नेतृत्व में आज यानी 10 जून को भारत के बेंचमार्क सूचकांकों ने खुलते ही एक नई ऊंचाई को छू लिया है. कहा जा रहा है कि यह बदलाव नरेंद्र मोदी द्वारा बीते दिन यानी रविवार को तीसरी बार भारत के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद हुआ है.

निफ्टी पर सबसे अधिक गिरावट

मिली रिपोर्ट के मुताबिक सुबह 09:21 बजे तक NSE निफ्टी 50 91.90 अंक या 0.39% बढ़कर 23,382.05 अंक पर था. साथ ही BSE सेंसेक्स 233.11 अंक या 0.30% बढ़कर 76,926.47 पर था. NSE निफ्टी 50 23,411.90 के नए उच्च स्तर पर पहुंच गया साथ ही सेंसेक्स 77,079.04 के उच्च स्तर पर पहुंच गया था.निफ्टी पर अडानी पोर्ट्स, पावर ग्रिड कॉर्प, बजाज ऑटो, कोल इंडिया और श्रीराम फाइनेंस के शेयर सबसे अधिक चढ़े हैं.

जबकि  निफ्टी पर सबसे ज्यादा गिरने वाले शेयरों में टेक महिंद्रा, इंफोसिस, डॉ. रेड्डीज लैब्स, एलटीआईमाइंडट्री और हिंडाल्को शामिल हैं. वहीं आईटी और मेटल को छोड़कर सभी क्षेत्रीय सूचकांक हरे निशान में कारोबार कर रहे हैं

बीते 7 जून का शेयर बाजार

बीते 7 जून यानी शुक्रवार को 30 शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स 1,720.8 अंक या 2.29 प्रतिशत उछलकर 76,795.31 के नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है. बेंचमार्क 1,618.85 अंक या 2.16 प्रतिशत की बढ़त के साथ 76,693.36 के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ है. 

आज यानी 10 जून का वैश्विक बाजार

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रोन द्वारा यूरोपीय संसद के चुनावों के बाद देश में अचानक चुनाव की घोषणा किए जाने की वजह से यूरो करीब एक महीने के अंदर सबसे कमजोर हो गया है. चीन, हांगकांग, ताइवान और ऑस्ट्रेलिया के बाजार आज यानी 10 जून को सोमवार को छुट्टियों की वजह से बंद नजर आए. इस बीच 10 साल के ट्रेजरी पर प्रतिफल तीसरे दिन बढ़ा.

क्योंकि अमेरिका में नौकरियों की ठोस रिपोर्ट ने फेडरल रिजर्व की ब्याज दरों में कटौती पर पुनर्विचार करने के लिए कहा गया है. साप्ताहिक गिरावट के बाद तेल में स्थिरता नजर आया है. इसके पीछे की वजह निवेशकों की नजर उद्योग की प्रमुख रिपोर्टों के साथ फेड के दर निर्णय पर है.

calender
10 June 2024, 11:19 AM IST

जरुरी ख़बरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो