छत्तीसगढ़ के बलौदा बाजार में मचा बवाल, सतनामी समुदाय और पुलिस के बीच हिंसा और पथराव

छत्तीसगढ़ के बलौदा बाजार के कलेक्टर ऑफिस को हजारों सतनामी समाज के लोगों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए घेर लिया है. इस दौरान उन्होंने जमकर विरोध प्रदर्शन किया है.

JBT Desk
JBT Desk

Baloda Bazar: छत्तीसगढ़ के बलौदा बाजार के कलेक्टर ऑफिस को हजारों सतनामी समाज के लोगों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए घेराव किया. इस दौरान उन्होंने जमकर विरोध प्रदर्शन किया है. बड़ी संख्या में एकत्रित होकर लोग दशहरा मैदान में विरोध जता रहे हैं.

सतनामी समुदाय के धार्मिक स्थल को कथित तौर पर नुकसान पहुंचाने को लेकर प्रदर्शन के बाद आज बलौदा बाजार में हिंसा भड़क उठी है. हिंसा के दौरान पथराव और आगजनी की खबर सामने आ रही है. सरकारी दफ्तरों में तोड़फोड़ की गई, गाड़ियों में आग लगा दी गई.

कुछ पुलिसकर्मी घायल

इस दौरान कलेक्टर ऑफिस जिला पंचायत भवन और तहसीन ऑफिस में आगजनी की गई है. पुलिस ने जब प्रदर्शनकारियों को रोकने की कोशिश की तो उन्होंने पुलिस के साथ मारपीट की है. इस मारपीट में कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए है.

नाराजगी का कारण

छत्तीसगढ़ के बलौदा बाजार के गिरौदपुरी के महकौनी गांव के संत अमरदास की तपोभूमि स्थित है. यहां पर सतनामी समाज के प्रवित प्रतीक माने जाने वाले जैतखाम को कुछ बदमाशों ने काट दिया था. इस कारण से पूरे सतनामी समाज में गुस्सा के वजह बनी हुई है. इससे पहले उन्होंने जैतखाम को काटने वाले अपराधियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की थी. पुलिस ने इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है लेकिन सतनामी समाज के लोग प्रशासन की कार्रवाई के संतुष्ट नहीं है. इसी वजह से आज विरोध प्रदर्शन करने के लिए हजारों की संख्या में सतनामी इकट्ठा हुए थे.

बलौदाबाजार की अब कैसी है स्थिति?
बलौदाबाजार में हिंसा पर एसएसपी सदानंद कुमार ने कहा कि "उन सभी ने आश्वासन दिया था - लिखित रूप में भी - कि वे शांतिपूर्ण कार्यक्रम करेंगे. लेकिन यह अनियंत्रित हो गया. पर्याप्त पुलिस व्यवस्था की गई थी. चार स्थानों पर बैरिकेड लगाए गए थे, लेकिन लोग दूसरे रास्ते से आए और बैरिकेड तोड़ दिए.

उन्होंने पुलिसकर्मियों के साथ धक्का-मुक्की की और पथराव किया. हमारे कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गए. वे कलक्ट्रेट परिसर में भी घुस गए पथराव करते हुए उन्होंने यहां गाड़ियों में आग लगा दी. उन्होंने आग पर भी काबू पा लिया. शहर में भी हिंसा की घटनाएं सामने आईं. अब स्थिति नियंत्रण में है कार्रवाई की जाएगी. हमारे पास तस्वीरें और वीडियो हैं. हम उसके आधार पर कार्रवाई करेंगे.''

calender
10 June 2024, 06:27 PM IST

जरुरी ख़बरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो