Delhi Chalo March: किसानों के मार्च पर दिल्ली पुलिस अलर्ट, जानिए किन चीजों पर लगा बैन

Delhi Chalo March:  13 फरवरी को दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने विस्तृत यातायात सलाह जारी की है साथ ही सभी जगह धारा 144 लागू है.

calender
12 February 2024, 09:10 PM IST

Delhi Chalo March: किसानों की 13 फरवरी को दिल्ली कूंच की हुंकार के मद्देनजर एहतियातन दिल्ली की किलेबंदी कर दी गई है. दिल्ली पुलिस द्वारा किसान यूनियनों के दिल्ली चलो मार्च से पहले हरियाणा और उत्तर प्रदेश से लगे दिल्ली के बॉर्डरों पर कंक्रीट के बैरिडकेड्स, सड़क पर बिछाए जाने वाले नुकीले बैरिकेड्स और कंटीले तार लगातार बॉर्डरों में लगा दिए गए हैं. 

किसानों और केंद्र सरकार के बीच बातचीत जारी

खाद्य एंव उपभोक्त मामलों के मंत्री पीयूष गोयल और कृषि मंत्री अर्जुन मुंडा सहित मंत्रियों की टीम यहां सेक्टर 26 में महात्मा गांधी राज्य लोक प्रशासन संस्थान में किसान नेताओं के साथ बैठक कर रही हैं. 13 फरवरी को दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने विस्तृत यातायात सलाह जारी की है.

पूरी दिल्ली में धारा 144 लागू 

इसके अलावा देश की राजधानी दिल्ली में 30 दिन के लिए 144 धारा लागू कर दी गई है और साथ ही हजारो पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया गया है. किसान यूनियनों ने फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की गारंटी को लेकर कानून बनाने समते अपनी मांगों को स्वीकार करने के लिए केंद्र पर दबाव बनाने के लिए विरोध प्रदर्शन का न्यौता दिया है.

जानिए किन चीजों पर लगा बैन

डीसीपी अंकित सिंह ने एनआई से बात करते हुए कहा कि, "समूहों में लोगों के आने पर रोक है, ट्रैक्टर, ट्रॉली या किसी भी तरह की लाठी या हथियार नहीं ला सकते. दिल्ली पुलिस बल और सीएपीएफ तैनात... हमने इसे पूरी तरह से सील करने के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए हैं." बॉर्डर. इस बॉर्डर को तोड़ा नहीं जा सकता. .जब तक धारा 144 चल रही है, ये व्यवस्थाएं भी जारी रहेंगी."

दिल्ली चलो' विरोध मार्च के मद्देनजर सिरसा सीमा पर सुरक्षा बल तैनात

हरियाणा के सिरसा में किसान संगठनों द्वारा 13 फरवरी को बुलाए गए 'दिल्ली चलो' विरोध मार्च के मद्देनजर सिरसा सीमा पर सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं. इसको लेकर ACS विजेंद्र सिंह ने कहा, "यहां पर पुख्ता इंतजाम किए गए हैं और सुरक्षा बल यहां पर पर्याप्त मात्रा में हैं...जो सामान लगाए गए हैं उसे हिलाना मुश्किल होगा. गांव के रास्ते पर भी यहां की तरह इंतजाम किए गए हैं. एंबुलेंस के लिए रास्ता खोल रखे हैं उन्हें दिक्कत नहीं होगी."

किसानों के विरोध के कारण सुरक्षा तैनाती पर, उपायुक्त पार्थ गुप्ता ने कहा कि, "सिरसा में, रणनीतिक रूप से 40 चेकपोस्ट स्थापित किए गए हैं, खासकर हमारे पड़ोसी राज्यों से आने वाले मार्गों पर. स्थानीय पुलिस के अलावा 11 अर्धसैनिक कंपनियों को तैनात किया गया है. धारा 144 लागू है." सिरसा में लगा दिया गया है. किसी भी स्थिति से कुशलतापूर्वक निपटने के लिए विभिन्न स्थानों पर एम्बुलेंस और फायर ब्रिगेड तैनात किए गए हैं.

आगे उन्होंने कहा कि, बठिंडा से आने वाली सड़क को अस्थायी रूप से सील कर दिया गया है, और कल तक 8-10 सबसे महत्वपूर्ण चेकपोस्ट सील कर दिए जाएंगे. यातायात बंद कर दिया गया है आम लोगों को वैकल्पिक मार्ग देने के लिए NH-9 के कई बिंदुओं पर डायवर्जन किया गया है... कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए कई जिलों में तीन दिनों के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है.

KMSC अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सभरा ने दिया बयान

पंजाब (किसान मजदूर संघर्ष कमेटी) केएमएससी अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सभरा ने कहा कि, "कल सुबह...200 किसान यूनियनें दिल्ली की ओर मार्च करेंगी...जो आंदोलन अधूरा रह गया था उसे पूरा करने के लिए...9 राज्यों की किसान यूनियनें हैं." फिलहाल संपर्क में हैं...पुडुचेरी, कर्नाटक, तमिलनाडु, एमपी, यूपी, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान और पंजाब, ये सभी राज्य आंदोलन के लिए तैयार हैं.

calender
12 February 2024, 07:53 PM IST

जरुरी ख़बरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो