एर्दोगन ने किया दावा, हमास के बाद तुर्की होगा इजरायल का अगला शिकार

Israel-Turkey Realtion: तुर्की का यह बयान ऐसे समय में सामने आया है जब तुर्की और इजरायल के संबंधों में गिरावट आई है. तुर्की ने मानवीय सहायता और युद्धविराम की मांग को लेकर इजरायल के साथ व्यापार को बंद कर दिया है.

JBT Desk
JBT Desk

Israel-Turkey Realtion: इजराइल और हमास के बीच पिछले एक साल से जंग जारी है इस बीच आज( 16 मई) तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने इजरायल से बड़ा खतरा होंए का दावा किया है. उन्होंने कहा है कि अगर इजराइल हमास से यह जंग जीत जाता  है तो उसका अगला शिकार तुर्की होगा. राजधानी अंकारा में तुर्की की संसद को संबोधित करते हुए एर्दोगन ने कहा कि अगर इजरायल को नहीं रोका गया तो उसका अगला निशाना तुर्की होगा.

बता दें कि पिछले साल 2023 में 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमास ने हमला किया था.  इस हमले में इजरायल के लगभग 1200 लोगों ने अपनी जान गंवाई थी. वहीं जवाबी कार्रवाई में इजरायल ने गाजा पट्टी में हमास के खिलाफ ऑपरेशन शुरू किया. एर्दोगन कई बार हमास के लिए समर्थन जता चुके हैं. इजराइल को गाजा में नरसंहार का दोषी ठहराया है. 

हमास को इजराइल समेत कई देश मानते हैं आतंकी संगठन  

आपको बता दें कि हमास को इजरायल, अमेरिका और यूरोपीय यूनियन समेत कई देश एक आतंकी संगठन मानते हैं.  लेकिन एर्दोगन इसे बार-बार नकारते हुए उसे स्वतंत्रता सेनानियों का संगठन बताते हैं. एर्दोगन ने कहा, 'ऐसा मत सोचो कि इजरायल गाजा में रुक जाएगा. जब तक इसे रोका नहीं जाता, यह दुष्ट और आतंकी देश देर-सबेर अनातोलिया पर अपनी नजरें जमा लेगा. हम हमास के साथ खड़े रहेंगे, जो अपनी जमीन की आजादी के लिए लड़ता है और अनातोलिया की रक्षा करता है.

इजरायल-तुर्की के बीच बढ़ा तनाव

तुर्की का यह बयान ऐसे समय  में सामने आया है जब तुर्की और इजरायल के संबंधों में गिरावट आई है. तुर्की ने मानवीय सहायता और युद्धविराम की मांग को लेकर इजरायल के साथ व्यापार को बंद कर दिया है.  तुर्की नाटो का सदस्य है, ऐसे में एर्दोगन के बयान के बावजूद इस बात की संभावना कम है कि इजरायल तुर्की पर हमला करेगा. इसके साथ ही एर्दोगन ने  इजरायल को 35,000 फिलिस्तीनियों की हत्या और 85,000 लोगों को घायल होने का दोषी करार दिया है. 

calender
16 May 2024, 04:07 PM IST

जरुरी ख़बरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो