छत्तीसगढ़ के 22 जिलों में RSS ने शुरू किया रोजगार सृजन केंद्र, लोगों को स्व-रोजगार की दी जा रही जानकारी

रायपुर महानगर में सेवाकार्य के लिए 83 सेवा बस्ती चिन्हित कर उनसे से 32 सेवा बस्ती में सेवा कार्य प्रारंभ किए गए हैं।

calender
18 March 2023, 06:44 PM IST

छत्तीसगढ़ के 22 जिलों में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने स्वावलंबी भारत अभियान के अंतर्गत उद्यमिता प्रोत्साहन सम्मेलनों के साथ जिला रोजगार सृजन केंद्रों का शुभारंभ किया है, जिसमें 426 कार्यकर्ता जुड़े हैं। बता दें कि इन रोजगार सृजन केंद्र के माध्यम से लोगों को स्व-रोजगार की जानकारी दी जा रही है। ये कार्यकर्ता उद्यम एवं रोजगार के लिए मार्गदर्शन देने का कार्य कर रहे हैं।

शुक्रवार को पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए RSS के प्रांत संघ चालक पुर्णेंदु सक्सेना ने बताया कि लोगों को स्वावलंबी भारत बनाने की दिशा में RSS के कार्यों को गति मिल रही है। छत्तीसगढ़ राज्य में गुणवत्ता विकास वर्गों एवं कार्यकर्ता प्रशिक्षण के माध्यम से नए कार्यकर्ताओं की संख्या बढ़ रही है। संघ के स्वयंसेवकों की गतिविधियों के माध्यम से कुटुम्ब प्रबोधन, सामाजिक समरसता, पर्यावरण तथा नागरिक कर्तव्यबोध विषयों पर योजनाबद्ध रूप से कार्य हो रहा है। क्षेत्र का सामाजिक अध्ययन शाखाओं में रहा है।

125 सेवा बस्तियों में कार्य प्रारंभ -

रायपुर महानगर में सेवाकार्य के लिए 83 सेवा बस्ती चिन्हित कर उनमें से 32 सेवा बस्ती में सेवा कार्य प्रारंभ किए गए हैं। प्रांत के अन्य 33 जिलों में सेवा कार्य के लिए 147 सेवा बस्ती चिन्हित कर उनमें से 125 सेवा बस्तियों में सेवा कार्य शुरू हुए हैं।

स्वयं सेवकों के संपर्क माध्यम से और समाज के सहयोग से इन सेवा बस्तियों में अभावग्रस्त लोगों के बीच सेवा कार्य संचालित किया जा रहा है। स्वयं सेवकों ने ऐसे मंदिर चिन्हित किए है, जहां लोगों का आना कम होता है। इन मंदिरों में प्रत्येक मंगलवार और शनिवार को आरती एवं हनुमान चालीसा पाठ प्रारंभ कर दिया गया है।

एक लाख जगहों तक पहुंचेंगे 2025 तक -

पुर्णेंदु सक्सेना ने आगे कहा कि, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक 12, 13 और 14 मार्च को सेवा साधना एवं ग्राम विकास केंद्र पट्टीकल्याणा, समालखा (पानीपत, हरियाणा) में आयोजित की गई थी। अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा में देश भर से 34 संगठनों के 1474 प्रतिनिधियों ने भाग लिया था।

प्रतिनिधि सभा में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की अखिल भारतीय स्तर पर कार्य स्थिति भी प्रतिनिधियों के समक्ष रखी गई। बताया गया कि देश के हर भाग में संघ कार्य में बढ़ोत्तरी हो रही है। साल 2025 में संघ अपने स्थापना के 100 वर्ष पूरे करने जा रहा है।

वर्तमान समय में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ लगभग 71355 जगहों पर प्रत्यक्ष तौर पर कार्य कर समाज परिर्वतन के महत्वपूर्ण कार्य में अपनी भूमिका का निर्वाह कर रहा है। अगले एक वर्ष तक एक लाख जगहों तक पहुंचना संघ का लक्ष्य है।

calender
18 March 2023, 06:44 PM IST

जरुरी ख़बरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो