Gurugram BMW-Auto Accident: मृतक भाई को दो हफ्ते बाद भी नहीं मिला इंसाफ, बहन ने सोशल मीडिया पर लगाई गुहार

Gurugram BMW-Auto Accident: देश में हिट एंड रन के मामले काफी ज्यादा बढ़े हैं. हाल ही में हरियाणा के गुरुग्राम सेक्टर 18 में एनएच-8 पर शनिवार सुबह एक बीएमडब्ल्यू कार ने ऑटो रिक्शा को पीछे से टक्कर मार दी , जिसमें 22 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई और उसका साथी घायल हो गया. कार चालक अपनी कार छोड़कर मौके से फरार हो गया.

JBT Desk
JBT Desk

Gurugram BMW-Auto Accident: देश में हिट एंड रन के मामले काफी ज्यादा बढ़े हैं. हाल ही में हरियाणा के गुरुग्राम सेक्टर 18 में एनएच-8 पर शनिवार सुबह एक बीएमडब्ल्यू कार ने ऑटो रिक्शा को पीछे से टक्कर मार दी , जिसमें 22 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई और उसका साथी घायल हो गया. कार चालक अपनी कार छोड़कर मौके से फरार हो गया. पुलिस ने कार चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.लेकिन अब तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है. 

इतने दिन बीत जाने की बाद भी जब इंसाफ नहीं मिला तो युवक की बहन ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट की जिसके जरिए उन्होंने इंसाफ मांगा. उनका कहना है कि आरोपी अब तक बाहर है. तो आइए आपको बताते है कि आकिर मामला क्या है. 

क्या है पूरा मामला

दरअसल डीएलएफ-3 निवासी गुरुसेवक सिंह (22) डीएलएफ-2 में एक निजी कंपनी में काम करता थे. पुलिस को यूपी के रामपुर निवासी सिंह के भाई सुखदेव सिंह बाजवा की शिकायत मिली. उन्होंने बताया कि उनके छोटे भाई और बहादुरगढ़ निवासी उनकी सहकर्मी नीतू कुमारी (23) शनिवार की सुबह कार से जा रहे थे, तभी एनएच 8 पर सेक्टर 18 में एयरटेल कॉरपोरेट ऑफिस के पास पीछे से बीएमडब्ल्यू ने ऑटोरिक्शा को टक्कर मार दी.

इलाज के दौरान हुई मौत

युवक की बहन ने बताया कि, "इस दुर्घटना में ऑटो चालक और दो यात्री घायल हो गए. स्थानीय लोगों की मदद से हमारी टीम ने घायलों को नजदीकी नारायण अस्पताल पहुंचाया." घायलों में से दो, गुरुसेवक और नीतू को बाद में फोर्टिस अस्पताल में रेफर कर दिया गया. अस्पताल में इलाज के दौरान, गुरुसेवक ने दम तोड़ दिया.

भाई के लिए इंसाफ मांग रही बहन

इस घटना को करीब दो हफ्ते का समय होने को है लेकिन गुरुसेवक के परिवार को अभी तक न्याय नहीं मिला है. मृतक की बहन ने 'People Of India' को दिए इंटरव्यू में अपने भाई के लिए इंसाफ की मांग की है. उन्होंने कहा, 'इस हादसे में मैंने अपने 22 साल के भाई को खो दिया. भाई हमेशा परिवार की खुशी के लिए काफी मेहनत करता था. पिछले साल ही उनकी एक बड़ी कंपनी में नौकरी लगी थी. उसने हमें हमेशा गर्व कराया. हमने पिछले शनिवार को ही भाई से मिलने की योजना बनाई थी.'

अभी तक आजाद घूम रहा है आरोपी

गुरुसेवक की बहन ने कहा कि पुलिस ने अभी तक लिकर टेस्ट  (Liquor Test) भी नहीं किया है. अभी तक कार ड्राइवर पर कोई आरोप नहीं लगाए गए हैं. अभी तक आरोपी ड्राइवर को गिरफ्तार नहीं किया गया है और वह आजाद घूम रहा है. भाई की असमय मौत के साथ हमने सब कुछ खो दिया. गुरुसेवक की बहन ने कहा कि हम न्याय के लिए आखिरी सांस तक लड़ते रहेंगे.

calender
08 July 2024, 11:37 PM IST

जरूरी खबरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो