हिजाब पर बैन लगाना कॉलेज को पड़ा भारी, टीचर के इस्तीफे के बाद देनी पड़ी सफाई

Hijab News: यह घटना कथित तौर पर 31 मई को हुई, जिसके बाद संजीदा कादर ने इस्तीफा दे दिया और एलजेडी लॉ कॉलेज में कक्षाओं में भाग लेना बंद कर दिया. इसके बाद यूनिवर्सिटी को मामले पर सफाई पेश करनी पड़ी.

JBT Desk
JBT Desk

Hijab News: कलकत्ता विश्वविद्यालय से एफिलेटेड एक निजी लॉ कॉलेज में हिजाब पर पाबंदी लगा दी गई. उसके बाद वहां पर काम कर रही एक शिक्षिका को इस्तीफा देना पड़ गया. जानकारी के मुताबिक, संस्थान के अधिकारियों द्वारा कथित तौर पर कार्यस्थल पर 'हिजाब' पहनने से परहेज करने को कहा था. टीचर ने इसी के चलते इस्तीफा दे दिया. टीचर का नाम संजीदा कादर है, एचटी के मुताबिक, टीचर का कहना है कि कॉलेज गवर्निंग बॉडी द्वारा जारी कथित आदेश ने उनके "मूल्यों और धार्मिक भावनाओं" को "आहत" किया है. 

यह घटना कथित तौर पर 31 मई की बताई जा रही है. कहा जा रहा है कि कादर के इस्तीफे के बाद 5 जून से एलजेडी लॉ कॉलेज में लड़कियों ने क्लास भी नहीं ली है. ये मामला इतना बढ़ गया कि खुद यूनिवर्सिटी ने इस मामले पर बात की है. वह इस साल मार्च-अप्रैल से यहां पर हेडस्कार्फ़ पहन रही थी, और यह मुद्दा पिछले हफ्ते ज्यादा बढ़ गया था. 

कॉलेज ने दी सफाई

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, जैसे ही यह मुद्दा सार्वजनिक हुआ और हंगामा हुआ, कोलकाता के इस कॉलेज के अधिकारियों ने एक स्पष्टीकरण जारी किया और दावा किया कि यह एक "गलत खबर" थी, उन्होंने कहा कि उन्होंने उसे काम के घंटों के दौरान अपने सिर को कपड़े से ढकने से कभी मना नहीं किया.

इसके बाद, संस्थान ने उन्हें 11 जून से क्लास फिर से शुरू करने का अनुरोध करते हुए एक ईमेल भेजा. कॉलेज गवर्निंग बॉडी के अध्यक्ष गोपाल दास ''कोई निर्देश या निषेध नहीं था, और कॉलेज अधिकारी हर हितधारक की धार्मिक भावनाओं का सम्मान करते हैं. वह मंगलवार को कक्षाएं फिर से शुरू करेंगी. कोई गलतफहमी नहीं है. हमने उनके साथ लंबी चर्चा की, प्रारंभिक घटनाक्रम कुछ गलत कम्युनिकेशन की वजह से हुआ.''

calender
11 June 2024, 09:13 AM IST

जरुरी ख़बरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो