किसानों को दिल्ली पहुंचने से रोकने के लिए जेसीबी, कंटेनर और कीलें; प्रशासन ने झोंकी पूरी ताकत

Farmers protest : पंजाब से दिल्ली आ रहे किसानों का रास्ता रोकने के लिए हरियाणा में जेसीबी मशीनें, सड़कों में कीलें, बैरिकेडिंग समेत अतिरिक्त सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है. किसान एमएसपी की गारंटी समेत कई मांगों को लेकर एक बार फिर से मुखर हो गए हैं.

calender
11 February 2024, 10:46 PM IST

पंजाब से किसान संगठन अपनी मांगों को लेकर 13 फरवरी को दिल्ली में विरोध-प्रदर्शन करने के लिए कूच कर गए हैं. वहीं चंडीगढ़ पुलिस ने एडवायजरी जारी कर शहर में धारा 144 लगा दी है. हरियाणा सरकार ने किसानों को पंजाब के अंदर ही रोकने के लिए पंजाब-हरियाणा की सीमओं को सील कर दिया है. किसान दिल्ली में प्रवेश न कर पाएं इसके लिए दिल्ली की भी सीमाओं पर अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किया गया है. 

पंजाब से दिल्ली के लिए कूच कर रहे किसानों का रास्ता रोकने के लिए जेसीबी मशीनें बुलाई गई हैं. रास्ते पर बड़े-बड़े पत्थर रखवा दिए गए हैं. सड़को पर बैरिकेडिंग के साथ ही कीलें लगा दी गई हैं. किसान एमएसपी की गारंटी समेत कई मांगों को लेकर एक बार फिर से मुखर हो गए हैं. किसान संगठनों ने 13 फरवरी को 'दिल्ली चलो' मार्च का आह्वान किया है. सरकार एक ओर किसानों को दिल्ली पहुंचने से रोकने के लिए तरह-तरह के पैंतरे अपना रही है, वहीं दूसरी ओर तीन केंद्रीय मंत्रियों को किसानों से बात करने के लिए चंड़गढ़ भेजा है.  

शंभू बॉर्डर पर कैसे हैं इंतजाम 

दिल्ली की ओर बढ़ रहे किसानों को पंजाब और हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर रोकने का प्रयास किया जाएगा. इसके लिए सारे बंदोबस्त भी पूरे कर लिए गए हैं. वहीं उसके बाद करनाल में नेशनल हाईवे पर कर्ण लेक के नजदीक किसानों को रोकने के लिए बेरिकेट्स लगाए जाने हैं. यहां पर कंटेनर रख दिए गए हैं. इस जगह पर अर्ध सैनिक बल तैनात हैं. जेसीबी की मशीनों और हाइड्रा भी बुला लिया गया है. इसके साथ ही बड़े-बड़े पत्थर भी साइड में रखे गए हैं. ताकि किसानों को आगे जाने से रोका जा सके. 

पुलिस की बंदोबस्ती से यात्री परेशान

पुलिस की इस तरह की बंदोबस्ती से आम जनता और यात्री परेशान हैं. जो नेशनल हाईवे से सफर कर रहे हैं. ऐसे में प्रशासन अपील कर रहा है कि जब तक कोई जरूरी काम न हो लोग घर से बाहर न निकलें. अब देखना यह होगा कि करनाल में किसानों को रोकने के बंदोबस्त पर्याप्त साबित होते हैं या धरे रह जाते हैं. हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने किसानों के 13 फरवरी को दिल्ली कूच करने की अपील को लेकर कहा कि अगर वे लॉ एंड ऑर्डर अपने हाथ में लेने की कोशिश करेंगे, तो उनसे कानून के दायरे में निपटा जाएगा. 

सिंघू बॉर्डर पर किसानों को रोकने की तैयारी

दिल्ली और हरियाणा की सीमा में सिंघू बॉर्डर पर किसानों को रोकने की तैयारी का गई है. दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा ने तैयारी को लेकर सिंघू बॉर्डर का दौरा किया और सुरक्षा इंतजामों को परखा. वहीं हरियाणा और पंजाब को जोड़ने वाले नेशनल हाईवे 148 बी पर टोहाना में 5 लेयर सुरक्षा तैनात की गई है. जिसके तहत नेशनल हाईवे 148 बी पर बीचों बीच कीलें गाड़ दी गईं हैं. रास्ते में बड़े-बड़े कंटेनर रखकर उनको मिट्टी को भर दिया गया है, जिससे किसान आगे न बढ़ सकें. 

calender
11 February 2024, 10:42 PM IST

जरुरी ख़बरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो