Look Back 2023: भारत के 6 ऐसे कारनामें जो गिनीज बुक में हो गए दर्ज, दिल्ली मेट्रो की ये घटना भी है शामिल

Look Back 2023: साल 2023 खत्म होने के कगार पर है. इस साल का आखिरी महीना चल रहा है. ऐसे में आज हम आपको भारत के कुछ ऐसे रिकॉर्ड के बारे में बताने जा रहे हैं जो वर्ल्ड गिनीज बूक में दर्ज है.

Deeksha Parmar
Deeksha Parmar

हाइलाइट

  • अयोध्या में सबसे ज्यादा दिये जलाए जाने का रिकॉर्ड
  • योग करके सूरत ने गिनीज बुक में अपना नाम दर्ज किया

Look Back 2023: साल 2023 का आखिरी महीना दिसंबर चल रहा है. कुछ ही दिनों में साल 2024 शुरू हो जाएगा, ऐसे में सभी लोग नए साल के इंतजार में है. हर साल की तरह इस साल भी भारत ने कई रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं. आज हम आपको साल 2023 की कुछ ऐसी खबरें बताने जा रहे हैं जिन्होंने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करवाया. 

अयोध्या में सबसे ज्यादा दिये जलाए गए
इस साल अयोध्या में दिवाली के मौके पर आयोजित दीपोत्सव महोत्सव 2023 में नया दिए जलाने का नया रिकॉर्ड बना है. इस रिकॉर्ड से पहले यानी साल 2022 में 18 लाख 81 हजार दिए जलाने का रिकॉर्ड था, जिसे इस साल दिपावली पर पर दीपोत्सव कार्यक्रम में तोड़ा गया. इस दौरान कुल 22 लाख 23 हजार दिए चलाए जाने का नया रिकॉर्ड बनाया गया है. रिकॉर्ड बनने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ को गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम द्वारा सर्टिफिकेट भी दिया गया है.

मेट्रो में घूमने का अनोखा रिकॉर्ड
दिल्ली के द्वारका में रहने वाले शशांक मनु ने एक अनोखा रिकॉर्ड बनाया है. उन्होंने मेट्रो में सफर कर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराया है. शशांक ने सबसे कम समय में दिल्ली मेट्रो के सभी स्टेशन घूमने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है.

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर भारत के नाम नया रिकॉर्ड
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर 21 जून 2023 को सूरत में बड़े पैमाने पर योग किया गया.  योग करके सूरत ने बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम किया था. इस दौरान एक साथ सवा लाख लोगों ने योग किया था जिसके बाद इसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड में रिकॉर्ड किया गया.

38 दांत के साथ बनाया रिकॉर्ड
आमतौर पर इंसान के 32 दांत होते हैं, लेकिन कल्पना बालन के 38 दांत है. इस वजह से कल्पना का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड में रिकॉर्ड किया गया है. कल्पना के दांस सामान्य व्यस्क से 6 दांत ज्यादा है जिसकी तस्वीर गिनीज रिकॉर्ड ने शेयर भी की थी.

रामचरितमानस गाकर बनाया रिकॉर्ड
उत्तर प्रदेश के वाराणसी के डॉ. जगदीश पिल्लई ने भी गिनीज बुक में अपना नाम दर्ज कर भारत में एक और नया इतिहास जोड़ दिया है. उन्होंने 138 घंटे 41 मिनट और 2 सेकेंड के श्रीरामचरितमानस गीत को अपनी आवाज दी जिसकी वजह से उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है. इसी के साथ श्रीरामचरितमानस गीत आधिकारिक तौर पर प्रकाशित विश्व का सबसे लंबा गाना बन गया.

calender
07 December 2023, 07:14 PM IST

जरूरी खबरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो