G20 Virtual Summit 2023: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वर्चुअल G20 नेताओं के शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे. अफ्रीकी संघ के अध्यक्ष सहित सभी जी-20 सदस्यों के नेताओं के साथ-साथ नौ अतिथि देशों और 11 अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रमुखों को आमंत्रित किया गया है. उल्लेखनीय है कि नई दिल्ली जी-20 शिखर सम्मेलन में जी-20 नई दिल्ली नेताओं की घोषणा को सर्वसम्मति से अपनाया गया था. 

विदेश मंत्रालय ने दी जानकारी

विदेश मंत्रालय ने शनिवार को एक बयान जारी कर कहा कि 10 सितंबर को नई दिल्ली जी-20 शिखर सम्मेलन के समापन सत्र के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने वर्चुअल शिखर सम्मेलन की मेजबानी करने की घोषणा की थी. इस घोषणा के क्रम में 22 नवंबर को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में वर्चुअल जी-20 नेताओं का शिखर सम्मेलन आयोजित किया जाएगा.

नौ देश रहेंगे शामिल

बयान के अनुसार, अफ्रीकी संघ के अध्यक्ष सहित सभी जी-20 सदस्यों के नेताओं के साथ-साथ नौ अतिथि देशों और 11 अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रमुखों को आमंत्रित किया गया है. उल्लेखनीय है कि नई दिल्ली जी-20 शिखर सम्मेलन में जी-20 नई दिल्ली नेताओं की घोषणा को सर्वसम्मति से अपनाया गया था. 

वर्चुअल शिखर सम्मेलन नई दिल्ली शिखर सम्मेलन के प्रमुख, चयनित परिणामों और कार्य बिंदुओं को आगे बढ़ाएगा और तब से हुए विकास की समीक्षा भी करेगा. चर्चा में 17 नवंबर को आयोजित दूसरे वॉयस ऑफ द ग्लोबल साउथ शिखर सम्मेलन के विचार-विमर्श को भी शामिल किया जाएगा.

विदेश मंत्रालय के अनुसार, वर्चुअल जी-20 शिखर सम्मेलन में प्रासंगिक राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्लेटफार्मों सहित विभिन्न जी-20 निर्णयों के प्रभावी कार्यान्वयन पर भी ध्यान केंद्रित करने की उम्मीद है. भारत के पास 30 नवंबर, 2023 तक जी-20 की अध्यक्षता है. 2024 में ब्राजीलियाई जी-20 की अध्यक्षता के दौरान जी-20 तिकड़ी में भारत, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका शामिल होंगे.