OMG ये कैसी नौकरी? प्रेग्नेंट करो और पैसे पाओ, विज्ञापन से हिली पुलिस

Haryana News: हरियाणा के नूंह में चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जिसमें महिलाओं को प्रेग्रेंट करने की जॉब निकाली गई है. इस विज्ञापन में ऐसा कहा गया है कि जो भी महिलाएं शादी के बाद किसी कारण की वजह से मां नहीं बन पाई , ऐसी महिलाओं को जो प्रेग्नेंट करेगा, उसे पैसे दिए जाएंगे. इस मामले को लेकर जब शिकायत दर्ज की गई तो पुलिसवालों ने इस मामले में दो आोरपियों को गिरफ्तार किया है.

JBT Desk
JBT Desk

Haryana News: हरियाणा के नूंह में एक विज्ञापन काफी चर्चा में चल रहा है जिसमें लिखा हुआ है कि 'प्रेग्नेंट करो और लाखों कमाओ...' जीं हां,  इस तरह का विज्ञापन देकर लोगों को फंसाने का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. ठगों ने प्रेग्रेंट जॉब नाम से विज्ञापन दिया था कि ऐसी महिला को प्रेग्रेंट करना है, जिसको औलाद नहीं हो रही. 

ठगों ने विज्ञापन में ये भी लिखा है कि अगर कोई महिला को प्रेग्रेंट करता है तो उस व्यक्ति को लाखों रुपये दिए जाएंगे. इस मामले को लेकर पुलिस ने कार्यवाही शुरु कर दी है जिसमें अब तक 2 ठगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. 

फर्जी विज्ञापन सोशल मीडिया पर पोस्ट

ये पूरा मामला हरियाणा के नूंह जिले का है. यहां पर महिलाओं को प्रेग्रेंट करने के लिए पैसे देने वाली फर्जी विज्ञापन सोशल मीडिया पर पोस्ट किया गया था. लेकिन जब ये विज्ञापन पुलिस अफसरों से सामने लाया गया तो वो भी हैरान हो गए. इसके बाद मामले की जांच पड़ताल शुरू की गई जिसमें नूंह मे 2 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने जानकारी दी कि महिलाओं को 'प्रेग्नेंट' करने के बदले पैसे देने वाले फर्जी विज्ञापन पोस्ट हुए थे. ऐसा करके लोगों को ठगा जा रहा था . 

महिलाओं की फेक तस्वीर का इस्तेमाल

मिली हुई जानकारी के अनुसार ये मामला हरियाणा के नूंग जिले के बताया गया है. यहां पर महिलाओं को 'प्रेग्नेंट' करने के लिए पैसे देने वाले फर्जी विज्ञापन सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए थे. लेकिन जब ये विज्ञापन पुलिस अफसरों के संज्ञान आया तो अधिकारियों ने तुरंत इस पर कार्यवाही करने को कहा. पुलिस ने बताया कि महिलाओं को 'प्रेग्नेंट' करने के बदले पैसे देने वाले फर्जी विज्ञापन पोस्ट हुए थे. ऐसा करके लोगों को ठगा जा रहा था . जिन आरोपियों को अरेस्ट किया गया है, उनकी पहचान एजाज और इरशाद के रूप में हुई है.

फर्जी तरीके से विज्ञापन

पुलिस ने जानकारी दी कि सोशल मीडिया पर आरोपी फर्जी तरीके से विज्ञापन पोस्ट करते थे. जिसमें जिन महिलाओं को बच्चे नहीं होते उनको  'प्रेग्नेंट' करने के लिए पैसे देने की बात कही जाती थी. लोगों को फसाने के लिए ये ठग महिलाओं की फेक तस्वीरों का इस्तेमाल करते थे. जब कोई विज्ञापन देखकर उनसे संपर्क करता था, तो वे उनसे रजिस्ट्रेशन फीस और फाइलिंग की कास्ट वसूलते थे. पैसे मिल जाने के बाद वो उसको ब्लॉक कर देते थे. शनिवार को आरोपी को  गिरफ्तार कर  अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

calender
07 July 2024, 01:41 PM IST

जरूरी खबरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो