DSP साहिबा हो गईं धोखाधड़ी का शिकार, फर्जी IRS से कर बैठीं शादी; मेट्रोमोनियल साइट से हुआ था रिश्ता

UP News : उत्तर प्रदेश पुलिस में तैनात महिला डीएसपी के साथ धोखाधड़ी हुई है. एक फर्जी IRS ने धोखे से उनसे शादी कर ली. इसके बाद उनकी तैनाती वाले जिले में वसूली कर रहा है. पाड़िता ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कराया है.

calender
11 February 2024, 09:14 PM IST

उत्तर प्रदेश पुलिस की एक महिला डीएसपी से धोखाधड़ी का हैरान करने वाला मामला सामने आया है. यहां शामली में तैनात डिप्टी एसपी श्रेष्ठा ठाकुर से एक फर्जी IRS ने शादी कर ली. जब डीएसपी को इस अपनी पति की हकीकत पता चली तो वो हैरान रह गईं. डिप्टी एसपी श्रेष्ठा ठाकुर की मुलाकात 2018 में मेट्रोमोनियल साइट के जरिए कथित IRS अफसर से हुई और कुछ ही समय बाद दोनों ने शादी कर ली.

फर्जी अधिकारी की हकीकत सामने आने के बाद उन्होंने उससे तलाक ले लिया. लेकिन इसके बावजूद वो उनके नाम पर लोगों से ठगी कर रहा था. इससे तंग आकर डिप्टी एसपी ने गाजियाबाद के कौशांबी थाने में पूर्व पति के खिलाफ केस दर्ज कराया है.

2012 बैच की पीपीएस अधिकारी हैं श्रेष्ठा ठाकुर

श्रेष्ठा ठाकुर का साल 2012 बैच की पीपीएस अधिकारी हैं. इन दिनों वह यूपी के शामली में तैनात हैं. श्रेष्ठा की गिनती एक तेज-तर्रार पुलिस अधिकारी के रूप में होती है. लोग उन्हें लेडी सिंघम के नाम से भी जानते हैं. पीड़िता पुलिस अधिकारी ने अपनी शिकायत में गाजियाबाद के कौशांबी थाने में दी शिकायत में बताया कि 2018 में उनकी शादी रोहित राज नामक शख्स के साथ हुई थी. दोनों लोगों की मुलाकात मेट्रोमोनियल साइट के जरिए हुई थी. तब उसने खुद को 2008 बैच का IRS अधिकारी बताया था और रांची में डिप्टी कमिश्नर के पद पर अपनी तैनाती बताई थी. 

डीएसपी के परिजन कैसे खा गए धोखा 

डीएसपी ने बताया कि शादी के पहले उनके परिजनों ने ठग के बारे में जांच पड़ताल भी की थी. उसमें पता चला कि 2008 में रोहित राज नामक एक शख्स का आईआरएस पद के लिए चयन हुआ था. उसकी तैनाती रांची में बतौर डिप्टी कमिश्नर सही पाई गई थी. मतलब कि यह सब कुछ मिलते-जुलते नाम की वजह से हुआ था, जिसका लाभ उठाकर आरोपी ने श्रेष्ठा ठाकुर के साथ धोखाधड़ी की. 

तलाक के बाद भी आरोपी कर रहा है परेशान

इस शादी के दो साल बाद हकीकत पता चलने पर दोनों ने तलाक ले लिया. इसके बावजूद धोखेबाज महिला पुलिस अधिकारी के तैनाती वाले जिलों में जाकर उनके नाम पर ठगी कर रहा है. फिलहाल आरोपी गाजियाबाद के कौशांबी थाना क्षेत्र में रहता है. उसके द्वारा लोगों से ठगी करने की शिकायत लगातार मिलने लगी, तो परेशान होकर श्रेष्ठा ठाकुर ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है.

calender
11 February 2024, 09:08 PM IST

जरुरी ख़बरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो