Kartarpur Sahib Gurdwara: गुरुद्वारे में शराब और मीट पार्टी का दावा, सिखों में आक्रोश का माहौल

Kartarpur Sahib Gurdwara: करतारपुर साहिब गुरुद्वारे के पवित्र स्थल पर शराब और मीट पार्टी होने के दावे पर हंगामा मच गया है. इससे सिख समुदाय की भावनाएं आहत हुई हैं.

Shabnaz Khanam
Shabnaz Khanam

Kartarpur Sahib Gurdwara: करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में शराब पार्टी होने के दावे से पाकिस्तान से लेकर भारत तक हंगामा मच गया है. इससे सिख समुदाय की भावनाएं आहत हुई हैं और वे इस मामले की जांच की मांग कर रहे हैं. दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने घटना की कड़ी निंदा करते हुए पाकिस्तान सरकार से जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया है.

डीएसजीपीसी ने की निंदा

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी (डीएसजीपीसी) के महासचिव जगदीप सिंह काहलों ने आरोप लगाया है कि पार्टी के दौरान शराब और मांस परोसा गया है, जो सिख समुदाय की मान्यताओं के एकदम खिलाफ है. उन्होंने घटना की कड़ी निंदा की और पाकिस्तान सरकार से जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया. 

जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग

भाजपा नेता मनजिंदर सिंह सिरसा के करतारपुर साहिब गुरुद्वारा परिसर में डांस पार्टी आयोजित करने के दावे पर तख्त दमदमा साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह का कहना है, यह वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है. पाकिस्तान सरकार को पता होना चाहिए कि करतारपुर साहिब गुरुद्वारा एक पूजा स्थल है.' उन्हें जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.'

2021 में इसी तरह की एक घटना में, गुरुद्वारा परिसर के अंदर खुले सिर वाली एक पाकिस्तानी मॉडल की तस्वीरों की सोशल मीडिया पर व्यापक आलोचना हुई. खालसा वॉक्स की रिपोर्ट के अनुसार, घटना पर चिंता व्यक्त करते हुए शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (एसजीपीसी) के अध्यक्ष हरजिंदर सिंह धामी और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति (डीएसजीएमसी) के अध्यक्ष हरमीत सिंह कालका ने वीडियो और इसके संभावित प्रभावों पर ध्यान दिया है. 


श्री दरबार साहिब के गेट से 20 फीट की दूरी पर पार्टी  

मिडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारतीय सुरक्षा एजेंसी के एक सूत्र ने कहा, 'श्री दरबार साहिब के दर्शनी देवरी (मुख्य द्वार) से 20 फीट की दूरी पर आयोजित पार्टी रात 8 बजे शुरू हुई. इसमें नारोवाल डिप्टी ने भाग लिया.' कमिश्नर मोहम्मद शाहरुख, नारोवाल जिला पुलिस अधिकारियों सहित विभिन्न समुदायों के 80 से अधिक लोग शामिल थे. 

calender
20 November 2023, 11:54 AM IST

जरुरी ख़बरें

ट्रेंडिंग गैलरी

ट्रेंडिंग वीडियो